Change Font Size

Change Screens

Change Layouts

Change Direction

Change Menu Styles

Cpanel

Issues / मुद्दे

Latest Reviews

भारत के मूल निवासी

भारत में लगभग 6 करोड 78 लाख लोग आदिवासी हैं. संस्कृत में आदिवासी का अर्थ होता है किसी जगह के मूल निवासी. भौगोलिकता की नजर से देखे तो ये देश भर में बिखरे हुए हैं और कलचर में परस्पर भिन्न भिन्न है. यह माना जाता है कि ये लोग प्रबल और प्रभावशाली आर्यों के भारत आगमन के पहले से ही यंहा रहते चले आए है. इनकी अपनी एक अलग पहचान है जिसके प्रमुख पहलू हैं-  

Read more...

संसाधनों से भरपूर झारखंड

झारखंड, झार या झाड़ जो स्थानीय रूप में वन का पर्याय है और खंड यानि टुकड़े से मिलकर बना है। अपने नाम के अनुरुप यह मूलत: एक वनप्रदेश है जो झारखंड आंदोलन के फलस्वरुप (जिसे बाद में कुछ लोगों द्वारा वनांचल आंदोलन के नाम से जाना जाता है) सृजित हुआ।  प्रचुर मात्रा में खनिज की उपलबध्ता के कारण इसे भारत का 'रूर' भी कहा जाता है जो जर्मनी में खनिज-प्रदेश के नाम से विख्यात है।

Read more...

Tribal religions in India

Among the 68 million citizens of India who are members of tribal groups, the religious concepts, terminologies, and practices are as varied as the hundreds of tribes, but members of these groups have one thing in common: they are under constant pressure from the major organized religions.

Read more...

Page 1 of 2

  • «
  •  Start 
  •  Prev 
  •  1 
  •  2 
  •  Next 
  •  End 
  • »
You are here Home